Sanskritik Rashtravad

जब हम वसुधैवकुटुम्बकम कहते हैं तो भारतीयसंस्कृति की क्या भूमिका है?

वसुधैव कुटुम्बकम् सनातन धर्म का मूल संस्कार तथा विचारधारा हैजो महा उपनिषद सहित कई ग्रन्थों में लिपिबद्ध है। इसका अर्थ है- धरती ही परिवार...

Read more

Article

General

Politics

धर्म को अफीम मानने वाले नास्तिक पुतिन पी एम् मोदी की मित्रता से ईश्वरवादी बन गए !

यह सर्वविदित है कि मार्क्स और माओ वादी नास्तिक हैं, भगवान पर उन्हें विष्वास नहीं और धर्म को वे अफीम...

Read more

ओम ब्रह्म Brahman का प्रतिनिधित्व करता है: निरपेक्ष – सभी अस्तित्व का स्रोत

हिंदू धर्म में, ब्राह्मण Brahman (Sanskrit: ब्रह्मन्) उच्चतम सार्वभौमिक सिद्धांत, ब्रह्मांड में परम वास्तविकता को दर्शाता है। हिंदू दर्शन के प्रमुख विद्यालयों...

Read more

Politics